मंगलवार, 7 जुलाई 2009

फैशन का बुखार


श्याम सुन्दर अग्रवाल








टीवी देख चुहिया को चढ़ गया,

फैशन का तेज बुखार ।

चूहे से वह कड़क के बोली,

मुझे लेकर चलो बाज़ार ।


फैंसी वस्त्र, सुंदर गहने,

मुझको तुम बनवा दो ।

फैशन शो में जाऊँगी मैं,

सबको तुम बतला दो ।।


तंग वस्त्र जब पहन चली,

तो राह में लग गया जाम ।

फैंसी सैंडल धोखा दे गये,

वह सड़क पर गिरी धड़ाम।


हाथ-पाँव तुड़वाकर दोनों,

वह जा पहुँची अस्पताल ।

दो टीके जब लगे शरीर पर,

तो बुरा हो गया हाल ।

-0-

4 टिप्‍पणियां:

Udan Tashtari ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
AlbelaKhatri.com ने कहा…

ha ha ha ha ha ha ha ha

काजल कुमार Kajal Kumar ने कहा…

बहुत सुंदर.

रितेश चौधरी ने कहा…

bachpan ke din bhi kya din the