शनिवार, 18 जुलाई 2009

रेगिस्तान में बादल कम क्यों बरसते हैं?


बच्चो, रेगिस्तान में आपने रेत के बड़े-बड़े टीले देखे होंगे। रेत ही रेत नज़र आती है वहाँ चारों ओर। इस सब का एक कारण वहाँ वर्षा का कम होना भी है। अकसर रेगिस्तान में बादल बहुत कम बरसते हैं। ऐसा क्यों होता है?
विश्व के अधिकतर रेगिस्तान भूमध्य रेखा से कुछ ही दूरी पर हैं। रेगिस्तान से उठने वाली गरम हवा तेजी से चलती है। जब यह हवा भूमध्य रेखा के पास से आने वाली ठंडी हवा से टकराती है तो बादल बनते हैं। नमी से भरे ये बादल जहाँ बनते हैं, वहीं बरस जाते हैं। मतलब, रेगिस्तान से दूर ही ये सारा पानी बरसा देते हैं। पानी बरसाने के बाद नमी रहित ये हवा चारों ओर घूमने लगती है। घूमते-घूमते रेगिस्तान तक भी पहुँच जाती है। लेकिन इस हवा में इतनी नमी नहीं होती कि वहाँ की गरम हवा से मिलकर बादल बनाए। कभी-कभी हवा में कुछ नमी बच जाती है तो थोड़ी-बहुत वर्षा हो जाती है।
*****

2 टिप्‍पणियां:

‘नज़र’ ने कहा…

आपकी पोस्ट बहुत पसंद आयी
---
पढ़िए: सबसे दूर स्थित सुपरनोवा खोजा गया

संगीता पुरी ने कहा…

अच्‍छी जानकारी !!